bunkhal-mela

पौड़ी गढ़वाल : पौड़ी गढ़वाल के राठ क्षेत्र में लगने वाले प्रसिद्द बूंखाल मेले में शनिवार को हजारों की भीड़ उमड़ी। थलीसैंण ब्लॉक के बूंखाल में स्थित मां कालिंका मंदिर में शनिवार सुबह से ही आसपास के गावों से देव डोलिया मंदिर परिसर में पहुंचनी शुरू हो गई थी। इस दौरान मां के जयकारों से यहां का माहोल दिन भर भक्ति में डूबा रहा। मंदिर में धार्मिक परंपरा और ढोल-दमाऊं की थाप और मां के जयकारों के बीच चली पूजा-अर्चना के बाद यह धार्मिक आयोजन भी सायं को शांति पूर्वक ढंग से संपन्न हो गया।

कभी पशुबलि के लिए विख्यात बूंखाल मेले में सैकड़ों भैंसे/बकरों को बलि माँ काली को चढ़ाई जाती थी। पौड़ी गढ़वाल में पशुबलि के लिए प्रसिद्ध रहे इस स्थल पर पिछले कई वर्षों से बलिप्रथा पूरी तरह से खत्म हो गई है। हालाँकि बलिप्रथा ख़त्म होने के बाद भी इस मेले का महत्व कम नहीं हुआ है. क्षेत्र की जनता को मेले का उसी बेसब्री से इन्तजार रहता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here