govind-ballabh-pant

देहरादून: भारत रत्न से सम्मानित उत्तर प्रदेश के पहले मुख्यमंत्री स्वर्गीय गोविन्द वल्लभ पंत की 132वीं जयन्ती के अवसर पर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने मुख्यमंत्री आवास में उनके चित्र पर श्रद्धा सुमन अर्पित किये। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा भारत रत्न पं. गोविन्द वल्लभ पंत जी प्रसिद्ध स्वतंत्रता संग्राम सेनानी, कुशल राजनेता व विधिवेता थे। हिन्दी को राजभाषा के रूप में प्रतिष्ठित कराने में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही। उत्तर प्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री एवं भारत के गृहमंत्री जैसे महत्वपूर्ण पदों पर कार्य कर उन्होंने देश की सेवा की, उन्होंने भारत के स्वतंत्रता संघर्ष में अहम योगदान दिया।govind-ballabh-pant

गोविंद बल्लभ पंत के कार्यों को देखते हुए उनके नाम पर देश के कई अस्पताल, शैक्षणिक संस्थानों का नाम रखा गया है। उन्हें 1957 में देश के सर्वोच्च सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया गया था. पं. गोविन्द वल्लभ पंत का जन्म अल्मोड़ा जनपद के खूंट गाँव में हुआ था। आज 10 सितम्बर को उनके गृह जनपद अल्मोड़ा सहित देशभर में उनकी 132वीं जयंती मनाई गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here