panel-inspection

डोईवाला : यदि हम माता पिता और गुरु धरती के इन प्रत्यक्ष 3 देवताओं का सम्मान करना नहीं सीखे तो हमारी शिक्षा व्यर्थ है और इसके लिए संस्कृति और संस्कारों संयुक्त शिक्षा की आवश्यकता है।

उक्त उद्गार पब्लिक इंटर कॉलेज डोईवाला के तीन दिवसीय पैनल इंस्पेक्शन के समापन अवसर पर वरिष्ठ प्रवक्ता आचार्य डॉक्टर चंडी प्रसाद घिल्डियाल ने व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि आज देश में कार बहुत हो गई है, परंतु संस्कारों की अवमानना हो गई है। और जिस देश का युवा संस्कारों से विहीन हो जाता है उस देश का भविष्य अंधकारमय हो जाता है। इसलिए यदि किसी प्रदेश और देश को चौपट करना हो तो सबसे पहले उसकी मूलभूत संस्कृति और संस्कारों पर हमला किया जाता है। और जब उसकी संस्कृति और संस्कार मिट जाते हैं तो सुदेश और समाज को खत्म होने में वक्त नहीं लगता है। इसलिए आज आवश्यकता देश में संस्कार और संस्कृति संयुक्त शिक्षा देने की है। उन्होंने संतोष व्यक्त किया के पब्लिक इंटर कॉलेज डोईवाला में प्रार्थना सभा सहित कक्षाएं एवं अन्य गतिविधियां संस्कारों एवं संस्कृति की परिधि में चल रही है। इसके लिए उन्होंने विद्यालय के पूरे स्टाफ को बधाई भी दी।

निरीक्षण टीम के प्रभारी राजकीय इंटर कॉलेज दूधली के प्रधानाचार्य हिमांशु असवाल ने कहा कि किसी भी विद्यालय की प्रशासनिक इकाई की रीढ़ उसकी शिक्षा व्यवस्था होती है और उसके शिक्षक होते हैं। उन्होंने कहा कि अच्छे शिक्षक विद्यालय का दर्पण होते हैं और उससे ही विद्यार्थियों की काबिलियत निखरती है। और इसके लिए विद्यालय में स्थाई शिक्षक होना नितांत आवश्यक है। असवाल ने कहा कि निरीक्षण की रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को शीघ्र सौंपी जाएगी।

दीक्षा टीम के सदस्य श्रीमती सरिता उनियाल एवं श्री नौटियाल ने शिक्षा व्यवस्था को सुदृढ़ करने के लिए विद्यार्थियों एवं शिक्षकों के बीच समन्वय स्थापित होने की आवश्यकता पर बल दिया। इंस्पेक्शन टीम का स्वागत करते हुए विद्यालय के प्रधानाचार्य जितेंद्र कुमार ने तीन दिवसीय इस निरीक्षण में विद्यालय की अच्छाइयों एवं बुराइयों पर अपने स्पष्ट विचार व्यक्त करने के लिए टीम का आभार जताया। तथा अपेक्षा की कि टीम द्वारा सौंपी गई रिपोर्ट पर विभाग कार्यवाही अवश्य करेगा। इस अवसर पर बच्चों द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किये गए। साथ ही एनसीसी परेड भी हुई और एनएसएस स्काउट इको क्लब रेड क्रॉस का भी प्रदर्शन किया गया। इस मौके पर विद्यालय अभिलेखों की भी जांच पर निरीक्षण टीम ने संतोष व्यक्त किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here