disabled-day

श्रीनगर गढ़वाल:  विश्व दिव्यांग दिवस के अवसर पर मंगलवार को राजकीय बालिका इंटर कॉलेज श्रीनगर गढ़वाल के सभागार में विकास खण्ड खिर्सू के विशेष आवश्यकता वाले बच्चों (CWSN) का कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस मौके पर प्रभारी प्रधानाचार्य श्रीमती सुजाता सिंह और श्रीमती सरिता उनियाल ने शिविर में उपस्थित अभिभावकों से रूबरू होते हुए उन बच्चों की देखभाल, शिक्षा, स्वास्थ्य पर विस्तृत जानकारी उपलब्ध कराई। आयोजन में उपस्थित उपशिक्षा अधिकारी खिर्सू प्रेम लाल भारती ने इन छात्रों के लिए विभाग द्वारा आयोजित विभिन्न क्रिया कलापों की जानकारी से अवगत कराते हुए कहा कि प्रत्येक वर्ष 3 दिसंबर को संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा विश्व दिव्यांग दिवस दिव्यांग व्यक्तियों के अंतर्राष्ट्रीय दिवस के रूप में मनाया जाता है। 1992 के बाद से विश्व दिव्यांग दिवस, विकलांग व्यक्तियों के प्रति करुणा और विकलांगता के मुद्दों की स्वीकृति को बढ़ावा देने और उन्हें आत्म-सम्मान, अधिकार और विकलांग व्यक्तियों के बेहतर जीवन के लिए समर्थन प्रदान करने के लिए एक उद्देश्य के साथ मनाया जा रहा है| इस दिवस को मनाने का मूल उद्देश्य यह भी है कि, दिव्यांगों की जागरूकता राजनीतिक, वित्तीय और सामाजिक-सांस्कृतिक जीवन के हर पहलू में विकलांग व्यक्तियों को लिया जाना शामिल है। इस दिन प्रत्येक वर्ष कुल मिलाकर एक खास मुद्दे पर ध्यान दिया जाता है|disabled-day

विश्व दिव्यांग दिवस के मुख्य विषय के रूप में विकलांग व्यक्तियों के सक्रिय और समाज के जीवन और विकास में पूरी तरह से भाग लेने के लिए और उन्हें अन्य नागरिकों के बराबर पूरा अधिकार देने के लिए साथ ही मनुष्य के अधिकार के रूप में परिभाषित किया गया है। जोकि “पूर्ण भागीदारी और समानता,” और सामाजिक-आर्थिक विकास के विकास से उत्पन्न लाभ में बराबर का हिस्सा आदि से सम्बंधित है।

आयोजन में उपस्थित अभिभावक श्रीमती लक्ष्मी देवी ने अपनी बालिका की देखरेख में आने वाली दिक्कतों और उसके सम्बल पक्ष को सदन में बताया। अजीम जी प्रेमजी फाउण्डेशन के सहयोग से बच्चों को बाल फिल्म दिखाई गई। पेपर क्राफ्ट द्वारा बच्चों को विभिन्न प्रकार की आकृतियां बनाना सिखाया गया। विशेष आवश्यकता वाले बच्चों का समावेशी कार्यक्रम के आयोजन में उक्त छात्रों की कविता पाठ, समूहगान, साँस्कृतिक, खेल प्रतियोगिता कैरम और लूडो तथा सांस्कृतिक कार्यक्रमों में गीत व कविताआयोजित की गई।

शिविर में 10 छात्रों एवं उनके अभिभावकों ने प्रतिभाग किया। अभिभावकों में श्रीमती लक्ष्मी देनी, नरेंद्र प्रसाद, श्रीमती इन्दू देवी, श्रीमती रानी देवी, ने अपने विचारों से अवगत कराया। आयोजन में सहयोग मुकेश काला ,चन्द्र मोहन बिष्ट ,अजीम प्रेमजी फाउडेशन के प्रदीप अंथवाल जी,अमरदीप और स्वीटी श्रीनगर द्वारा किया गया। आयोजन की प्रधानाचार्या GGIC श्रीनगर व प्रेम लाल भारती (उपशिक्षा अधिकारी खिर्सू) एवं संचालन मुकेश काला द्वारा किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here