garhwal-rifle-rajendra-negi

देहरादून : कश्मीर के गुलमर्ग में सीमा पर तैनात भारतीय सेना का जवान राजेंद्र सिंह नेगी बर्फ में फिसलकर पाकिस्तान सीमा में पहुंचने के बाद अचानक लापता हो गए हैं। प्राप्त जानकारी के मुताबिक 11वीं गढ़वाल राइफल्स में हवालदार राजेन्द्र सिंह नेगी इन दिनों कश्मीर के गुलमर्ग में सीमा पर निगरानी के लिए तैनात थे। गुलमर्ग में भारी बर्फबारी के दौरान गश्त कर रहे राजेन्द्र नेगी बर्फ में फिसल गए। जिसके बाद से वे लापता हो गए। आशंका जताई जा रही है कि हवलदार राजेन्द्र बर्फ में फिसलते हुए पाकिस्तानी सीमा में पहुंच गए हैं। भारतीय सेना उन्हें तलाश कर रही है, लेकिन मौसम खराब होने और सीमा पर तनाव के कारण रेस्क्यू ऑपरेशन में दिक्कतें आ रही हैं। सेना द्वारा इस घटना की सूचना जब उनके परिजनों को दी गई तो घर में कोहराम मच गया। उनकीकी पत्नी राजेश्वरी देवी और तीन बच्चों का रो-रोकर बुरा हाल है। परिजनों ने सरकार से उनकी जल्द वापसी को लेकर मांग की है।

मूलरूप से चमोली जिले के गैरसैंण निवासी राजेन्द्र सिंह नेगी ने 2002 में 11 गढ़वाल राइफल्स जॉइन की थी। उनका परिवार वर्तमान में देहरादून के अंबीवाला स्थित सैनिक कालोनी में रहता है। जहाँ उनकी पत्नी राजेश्वरी देवी के अलावा बड़ी बेटी अंजली (14), बेटा प्रियांशु (12) तथा छोटी बेटी (10) मीनाक्षी रहते हैं। राजेंद्र सिंह एक महीने की छुट्टी के बाद नवंबर में ही ड्यूटी पर लौटे थे। उनके पिता रतन सिंह नेगी पैतृक गांव में खेतीबाड़ी का काम करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here