Dhumakot-Bazaar-fire

धुमाकोट: पौड़ी गढ़वाल के तहसील मुख्यालय धुमाकोट बाजार के नजदीकी जंगल में लगी आग बुधवार देर रात को बाजार तक पहुंच गई। आग की चपेट में आने से बाजार की चार दुकानें जलकर खाक हो गई। प्राप्त जानकारी के मुताबिक बुधवार देर रात करीब 11 बजे धुमाकोट बाजार के निकट जंगल में लगी आग अचानक मुख्य बाज़ार की एक दुकान तक पहुँच गई। देखते ही देखते आग ने आप की अन्य 3 दुकानों को भी चपेट में ले लिया। देर रात करीब 12 बजे कसाना गाँव से लौट रहे कुछ ग्रामीणों ने बाजार में आग लगी देखकर पुलिस को सूचना देने के साथ ही आग बुझाने के प्रयास किया। सूचना मिलते ही पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और पुलिस टीम ने ग्रामीणों की मदद से बड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। हालाँकि तब तक चार दुकानें आग से जलकर खाक हो चुकी थी। परन्तु अन्य दुकानों तक आग फैलने से  रोककर उन्हें सुरक्षित किया गया। आग की चपेट में आकर रवींद्र सिंह पटवाल की मोबाइल, बच्ची सिंह पटवाल की इलेक्ट्रॉनिक व प्लास्टिक सामान, कादिम हुसैन व सौरभ पाल की नाई की दुकान पूरी तरह से जलकर खाक हो गई हैं।  इस लोगों को लाखों का नुकसान हो गया है. वहीँ वीरेंद्र व सुनील सिंह के होटलों को भी आंशिक रूप से नुकसान हुआ है। दुकानें जलने से दुकानदारों के सामने रोजी-रोटी का संकट उत्पन्न हो गया है। धुमाकोट व्यापार मंडल के सदस्यों ने इन दुकानदारों को सरकार से आर्थिक मदद की मांग की है।

यह भी पढ़ें:

प्रचंड बहुमत के साथ बीजेपी ने रचा इतिहास, पहली बार पार्टी का आंकड़ा 300 के पार

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here