cm-trivendra-flag-hoisting

देहरादून: मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने 73वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर देहरादून के परेड ग्राउण्ड में आयोजित मुख्य कार्यक्रम में ध्वजारोहण किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों व उनके आश्रितों को शाल भेंट कर सम्मानित किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने थाना मुनस्यारी को सर्वश्रेष्ठ थाना घोषित होने पर एस.ओ मुनस्यारी प्रदीप चैहान को भी सम्मानित किया। विभिन्न खेल प्रतियोगिताओं में राज्य की ओर से उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को भी मुख्यमंत्री द्वारा सम्मानित किया गया। इस बार स्वतंत्रता दिवस पर परेड ग्राउण्ड एवं सचिवालय में आयोजित कार्यक्रम में प्लास्टिक के उत्पादों को पूर्णतः प्रतिबंधित किया गया था एवं स्थानीय उत्पादों पर आधारित मिष्ठान वितरित किया गया। प्रदेश को पौलिथीन मुक्त बनाने व स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार द्वारा पहल की जा रही है। मुख्यमंत्री ने फोटो गैलरी का अवलोकन भी किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री द्वारा प्रदेशवासियों के लिए विभिन्न घोषणायें की गई।

स्वतंत्रता दिवस पर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत द्वारा की गई घोषणाएं:

“देश को जानो योजना’’ के तहत कक्षा 10 के सरकारी स्कूलों के टॉप 25 रैंकर्स को भारत भ्रमण कराया जाएगा।

SC/ST आश्रम पद्धति के विद्यार्थियों के भोजन भत्ते को ₹3000 से बढ़ाकर ₹4500 /माह कर रहे हैं।

वृद्ध व्यक्तियों की देखभाल के लिए जल्द एक कानून लाने जा रहे हैं। बुजुर्गों की देखभाल हम सभी का परम दायित्व है।

मुख्यमंत्री प्रतिभा प्रोत्साहन योजना’’ के तहत टॉपर 25 प्रतिशत बच्चों को सभी कोर्सेज में 50 प्रतिशत फीस की स्कॉलरशिप दी जाएगी।

महिला उद्यमियों के लिए एक साल में 5100 कियोस्क बनाकर महिलाओं को मसूरी, नैनीताल, केदारनाथ, बदरीनाथ जैसी जगहों में आवंटन किया जाएगा। एक कियोस्क से औसतन 4 महिलाओं को और कुल 20 हजार महिलाएं आजीविका से जुडेंगी। सरकार इन्हें बैकएंड स्पोर्ट देगी.

हमारी सरकार में 11 हजार उद्यमों में अब तक 80 हजार लोगों को रोजगार मिला है। इन्वेस्टर्स समिट के बाद 10 माह में ₹16 हजार करोड़ का निवेश हुआ है, जिससे 40000 रोजगार मिलेंगे।

पिरूल से 60 हजार रोजगार सृजित करने पर कार्य शुरू है। सौर नीति में अब तक 208 लोगों को आवंटनपत्र सौंपे हैं।

पलायन रोकने व विकास का लाभ दूरस्थ क्षेत्रों तक पहुंचाने हेतु पर्वतीय क्षेत्रों में ग्रोथ सेंटर विकसित कर रही है। 58 ग्रोथ सेंटरों को मंजूरी दी जा चुकी है। स्थानीय अनाज की खपत बढ़ाने व मार्केटिंग के प्रयास हो रहे हैं। किसानों की आय को दोगुना करने के लिए प्रयास किये जा रहे हैं।

उत्तराखंड में रोड रेल एयर कनेक्टिविटी मजबूत की जा रही है। ऑल वेदर रोड़, चारधाम रेल लाइन, रुड़की देवबंद रेल, पर तेजी से काम चल रहा है। राज्य में 13 हेलीपोर्ट विकसित किए जा रहे हैं। उड़ान योजना से देहरादून से पंतनगर व पिथौरागढ़ के लिए सस्ती हवाई सेवा शुरू हुई है।

पारदर्शिता व भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस हमारे मूल मंत्र है। राज्य में भ्रष्टाचार के खिलाफ जल्द ही एक और कठोर कानून लाने जा रहे हैं। सीएम डैशबोर्ड, सीएम हेल्पलाईन 1905 और सेवा का अधिकार से कार्य संस्कृति में सुधार लाया जा रहा है। इसमें काफी कामयाबी मिली है।

प्रदेश के युवाओं के लिए भी ख़ास है। इस वर्ष को हम रोजगार वर्ष के रूप में मना रहे हैं, 18 हजार पदों पर भर्तियां शुरू हो गई हैं। उत्तराखंड को BCCI से मान्यता मिली है, अब हमारी क्रिकेट प्रतिभाएं अपने प्रदेश से खेल सकेंगी। प्रदेश में क्रिकेट का ढांचा मजबूत होगा।

उत्तराखंड को सैन्यधाम की संज्ञा दी है। इसलिए वीरभूमि के शहीदों के परिवार का ख्याल रखना हमारा फर्ज है। हमारी सरकार शहीद सैनिकों के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी में समायोजित कर रही है।

इस अवसर पर विधायक खजान दास, मेयर सुनील उनियाल गामा, मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह, पुलिस महानिदेशक अनिल रतूड़ी, जिलाधिकारी देहरादून सी. रविशंकर, एस.एस.पी देहरादून अरूण मोहन जोशी एवं अन्य गणमान्य उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here