adwet-chhetri

देहरादून : मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से गुरूवार को हर्रावाला के छठवीं कक्षा के छात्र अद्वैत क्षेत्री ने भेंट की। देहरादून के सेंट कबीर अकादमी में कक्षा 6 में पढ़ने वाले 11 वर्षीय छात्र अद्वैत क्षेत्री ने बताया कि उन्होंने हवा से चलने वाली बाइक बनाई है। इस बाइक को बनाने में उन्हें डेढ़ साल का समय लगा। इससे वायु, ध्वनि और मृदा से संबंधित कोई प्रदूषण नहीं होता है। यह बाइक वे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी को समर्पित करना चाहते हैं। अद्वैत ने कहा कि प्रधानमंत्री जी के स्वच्छ भारत अभियान में यह उनका छोटा सा योगदान है। अद्वैत ने कहा कि वे भविष्य में एस्ट्रोनॉटिक्स के क्षेत्र में कार्य करना चाहते हैं। यह बाइक उन्होंने गुब्बारे से प्रभावित होकर बनाई है। उन्होंने कहा कि यह विचार मेरे मन में तब आया जब गुब्बारा कम प्रेशर से इधर से उधर उड़ सकता है, तो अधिक प्रेशर से एयर से चलने वाली बाइक बनाई जा सकती है। उन्होंने इस बाइक मॉडल को देखने के लिए मुख्यमंत्री को आमंत्रित किया है।

अद्वैत क्षेत्री ने बताया कि कुछ समय पूर्व गुब्बारे में हवा भरते हुए उनके दिमाग में एक ऐसी बाइक बनाने का विचार आया जो हवा से चलती हो। अद्वैत ने यह आइडिया अपने पिता को बताया, जिसे सुनकर उसके पिता भी उसके साथ जुट गए। तकनीकी कार्यों के साथ उन्होंने बाइक के लिए जरूरी पार्ट एकत्र करने में मदद की। अद्वैत ने बताया कि यह बाइक बनाने में उन्हें करीब 13 महीने का वक्त लगा।
अद्वैत ने बाइक में आगे की ओर दो टैंक लगाए हैं, जिनमें कंप्रेशर से हवा भरी जाती है। टैंकों के बीच छोटा-सा इंजन लगा है। टैंक में भरी हवा के दबाव से इंजन स्टार्ट होता है। उन्होंने अपनी बाइक का नाम अद्वैत-ओटू (O2) रखा है।

मुख्यमंत्री ने अद्वैत को इस मॉडल को बनाने पर बधाई देते हुए उनका आमंत्रण स्वीकार किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखण्ड में अनेक प्रतिभाशाली बच्चे हैं। हमारा प्रयास है कि ऐसे बच्चों को आगे भी इसी तरह के इनोवेटिव कार्यों के लिए अलग फंड की व्यवस्था की जाय। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय स्तर पर इस बाइक मॉडल का प्रस्तुतीकरण कराया जायेगा। इस अवसर पर अद्वैत के पिता आदेश क्षेत्री एवं माता श्रीमती अमृता क्षेत्री भी उपस्थित थे।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here