cricket association of uttarakhand

देहरादून: मंगलवार 13 अगस्त 2019 का दिन उत्तराखंड क्रिकेट के लिए ऐतिहासिक और खुशखबरी वाला दिन रहा। 19 साल से BCCI की मान्यता के लिए संघर्ष कर रहे उत्तराखंड का इंतजार आखिरकार आज खत्म हो गया है। आज उत्तराखंड को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) की पूर्ण मान्यता मिल गई है। मंगलवार को BCCI की क्रिकेट प्रशासक समिति (COA) ने क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड (CAU) को प्रदेश में क्रिकेट संचालन के लिए पूर्ण मान्यता दे दी। अब राज्य के खिलाड़ियों के पलायन पर पूर्ण विराम लगेगा। BCCI के इस निर्णय से उत्तराखंड के क्रिकेट खिलाडियों एवं खेल प्रेमियों में ख़ुशी की फ़ैल गई है।

नई दिल्ली में उत्तराखंड की मान्यता को लेकर मंगलवार को COA की निर्णायक बैठक में अध्यक्ष विनोद राय की मौजूदगी में CAU की मान्यता पर मुहर लगाई गई। विनोद राय की ओर से मंगलवार शाम को सीएयू को ई-मेल के माध्यम से मान्यता मिलने की जानकारी दी गई। इसमें बताया कि स्थानीय क्रिकेट में योगदान व ग्राउंड समेत अन्य सुविधाओं संबंधी दस्तावेजों के आधार पर CAU के दावे को मजबूत माना है। BCCI की मान्यता मिलने के बाद अब उत्तराखण्ड राज्य के खिलाड़ी रणजी ट्राफी सहित BCCI के सभी घरेलू टूर्नामेंट खेल सकेंगे।

मुख्यमंत्री ने जताई ख़ुशी

प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उत्तराखंड को BCCI की मान्यता मिलने के बाद कहा कि BCCI द्वारा क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड (CAU) को राज्य में क्रिकेट संचालन के लिए पूर्ण मान्यता मिलने के साथ ही उत्तराखंड का लंबा इंतजार खत्म हुआ। इसके लिए BCCI व राज्य में क्रिकेट की मान्यता के लिए प्रयासरत सभी लोगों का हार्दिक आभार। BCCI की मान्यता मिलने के बाद निश्चित रूप से अब राज्य के प्रतिभावान खिलाड़ियों को राज्य का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिलेगा व राज्य में क्रिकेट का स्तर सुधरेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here