स्कूल

ग्रेटर नोएडा: तीन दिन पहले ग्रेटर नोएडा के एक पब्लिक स्कूल में चार साल की एक मासूम बच्ची के साथ हुए दुष्कर्म के प्रयास की घटना को लेकर शहर के तमाम सामाजिक संगठनों ने नाराजगी जताते हुए सोमवार को स्कूल का घेराव करने का फैसला किया है। रविवार को एक्टिव सिटिजन टीम, गोल्डन फेडरेशन ऑफ आरडब्ल्यूए एवं महिला शक्ति सामाजिक समिति सहित शहर के लगभग सभी सामाजिक संगठनों ने इस घटना को लेकर बैठक की. बैठक में निर्णय लिया गया कि सोमवार को सुबह 11 बजे स्कूल का घेराव कर प्रदर्शन किया जाएगा और स्कूल प्रबंधन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की मांग की जाएगी। प्रदर्शन के बाद जिलाधिकारी को एक ज्ञापन भी सौंपा जाएगा। गोल्डन फेडरेशन ऑफ आरडब्ल्यूए ग्रेनो के अध्यक्ष देवेंद्र टाइगर आज एक प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए शहर के सभी सामाजिक कार्यकर्ताओं से अपील है कि इस विरोध प्रदर्शन में सभी लोग एक साथ आयें ताकि भविष्य में बच्चों के साथ ऐसी घटना ना हो सके।

महिला शक्ति सामाजिक समिति की अध्यक्ष साधना सिन्हा ने एवं एक्टिव सिटिजन टीम के हरेंद्र भाटी ने कहा की स्कूल में इस तरह की सुरक्षा चूक होना बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इसलिए इस घटना के विरोध में सभी लोगों को एकजुट होना चाहिए। महिला उन्नति संस्था (भारत) के संथापक डॉ. राहुल वर्मा ने भी इस घटना की निन्दा करते हुए कल सुबह इस विरोध प्रदर्शन में सम्मिलित होने की जानकारी दी है।

जिला प्रशासन द्वारा एडीएम की अध्यक्षता में जांच कमेटी गठित, 15 दिन में मांगी रिपोर्ट

जिला प्रशासन ने भी उपरोक्त घटना को गंभीरता से लेते हुए अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) की अध्यक्षता में एक जांच कमेटी गठित की है। कमेटी 15 दिन के अंदर विस्तृत जांच रिपोर्ट जिलाधिकारी को सौपेगी। इस रिपोर्ट के आधार पर प्रशासन विद्यालय के खिलाफ कार्रवाई करेगा। जिलाधिकारी बीएन सिंह ने कहा है कि विद्यालयों में अध्ययनरत छात्र, छात्राओं की सुरक्षा के दृष्टिगत संबंधित शिक्षा बोर्ड एवं राज्य सरकार समय-समय पर निर्देश जारी करते हैं। तीन दिन पहले ग्रेटर नोएडा के एक विद्यालय की घटना की जांच के लिए एक कमेटी गठित की गयी है। कमेटी में अपर जिलाधिकारी (प्रशासन)मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा नामिक सक्षम अधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक, एआरटीओ (प्रवर्तन) व मुख्य अग्निशम अधिकारी शामिल हैं। कमेटी विद्यालय द्वारा मानक के अनुसार सुरक्षा प्रबंध करने, सीसीटीवी कैमरे लगाने, सीबीएसई व राज्य सरकार द्वारा सुरक्षा प्रबंधन के दृष्टिगत जारी निर्देशों का अनुपालन करने आदि बिंदुओं पर जांच करेगी।

इसके अलावा इस घटना के बाद जिलाधिकारी बीएन सिंह ने जनपद के सभी विद्यालयों के प्रधानाचर्यों एवं मालिकों की आगामी 17 जुलाई को दोपहर 2.30 बजे कलक्ट्रेट सभागार में बैठक बुलाई है। जिसमें विद्यालयों में लगाये गये सीसीटीवी कैमरे, कैंटीन, वाहन, अग्नि सुरक्षा यंत्र, कर्मचारियों का सत्यापन आदि विषयों की सूचनाएं मांगी गयी हैं।

यह भी पढ़ें:

4 साल की बच्ची के साथ स्कूल के स्विमिंग पूल मे दुष्कर्म का प्रयास

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here