ragini-singer-sushma-murder

ग्रेटर नोएडा : ग्रेटर नोएडा के बीटा-टू कोतवाली क्षेत्र में बीते 01 अक्टूबर को रागनी गायिका सुषमा की गोली मारकर हत्या की घटना का गौतमबुद्धनगर पुलिस ने खुलासा कर दिया है। ग्रेटर नोएडा के थाना बीटा-टू पुलिस और स्टार-टू टीम गौतमबुद्धनगर की संयुक्त टीमों ने इस हत्याकांड को अंजाम देने वाले दो शूटरों को रविवार रात मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया है। मुठभेड़ के दौरान गोली लगने से घायल हुए दोनों बदमाशों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस के मुताबिक अभियुक्तों ने आठ लाख रूपये की सुपारी लेकर हत्या को अंजाम दिया था। पकड़े गए अभियुक्तों के कब्जे से पुलिस ने एक फॉरच्यूनर गाडी, एक पिस्टल 30 एमएम और एक तमंचा तीन सौ पन्द्रह बोर बरामद किया है। अभियुक्त मुकेश के विरूद्ध लूट, डकैती आदि के करीब 22 मुकदमें पंजीकृत है जबकि अभियुक्त संदीप के विरूद्ध लूट आदि के 2 मुकदमें पंजीकृत हैं। इसके साथ ही पुलिस ने हत्या की साजिश रचने वाले सुषमा के लिव इन पार्टनर गजेंद्र भाटी व बुलंदशहर हमले के मुख्यारोपी प्रमोद समेत 6 आरोपियों को भी गिरफ्तार किया है। हत्या की साजिश लिव इन पार्टनर ने रची थी। ज्ञात हो कि सुषमा की एक अक्टूबर की रात गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि बीटा-टू कोतवाली पुलिस और स्टार-टू टीम को सूचना मिली थी कि रागनी गायिका सुषमा की हत्या करने वाले दो शूटर बीटा-टू कोतवाली क्षेत्र में फॉरच्यूनर कार में घूम रहे हैं। इस पर पुलिस टीम अलर्ट हो गई और मुखबिर द्वारा बतायी गई लोकेशन सिग्मा-4 के सर्विस रोड पर कार की घेराबंदी की तो उसमें सवार बदमाशों ने पुलिस टीम पर फायरिंग कर दी। इस पर पुलिस द्वारा भी जवाबी कार्रवाई की गई। पैर में गोली लगने से दोनों बदमाश घायल हो गए, जिनकी पहचान मुकेश निवासी जौली गढ़ अगौता बुलंदशहर व संदीप निवासी गांव थोरा जेवर कोतवाली के रूप में हुई। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में पता चला कि दोनों ने आठ लाख रूपये की सुपारी लेकर घटना को अंजाम दिया था।  इधर पुलिस ने सुषमा के लिव इन पार्टनर गजेंद्र भाटी, उसके चालक अमित, अजब सिंह व बुलंदशहर में हुए हमले के मुख्यारोपी प्रमोद को भी गिरफ्तार कर लिया। एसपी देहात रणविजय सिंह ने बताया कि पुलिस द्वारा पूछताछ करने पर आरोपी गजेंद्र भाटी ने बताया कि सुषमा शादी का दबाव बनाने के साथ ही सम्पत्ति अपने नाम करने का भी दबाव बना रही थी। पुलिस पूछताछ में पता चला है कि गजेंद्र सुषमा के चरित्र पर शक भी करता था। सुषमा से छुटकारा पाने के लिए गजेंद्र ने साजिश रचकर उसकी हत्या करा दी।

हत्याकांड का खुलासा करने पर एसएसपी वैभव कृष्ण द्वारा थानाध्यक्ष बीटा-टू व स्टार-टू टीम को 25 हजार रूपये नगद पुरस्कार से पुरस्कृत किया जायेगा एवं क्षेत्राधिकारी ग्रेटर नोएडा प्रथम को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here