उत्तराखंड के विद्यालयों में रिक्त पड़े 4000 पदों पर शिक्षकों की जल्द होगी भर्ती

देहरादून: उत्तराखंड के माध्यमिक विद्यालयों में एलटी और प्रवक्ता के रिक्त पड़े करीब 4000 पदों पर वॉक इन इंटरव्यू के माध्यम से अस्थायी तौर पर शिक्षकों की भर्ती जल्द शुरू होने जा रही है। इस विषय में शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने बुधवार को सचिवालय में शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक की। बैठक के बाद उन्होंने बताया कि एलटी और प्रवक्ता संवर्ग के पद रिक्त होने के चलते पढ़ाई प्रभावित हो रही है। इसी को देखते हुए बैठक में निर्णय लिया गया है कि एलटी और प्रवक्ता संवर्ग के पदों को स्थायी रूप से भरे जाने तक विद्यालय प्रबंधन समिति (एसएमसी) के माध्यम से अस्थाई तौर पर शिक्षक रखे जाएंगे। जिनका चयन वॉक इन इंटरव्यू के माध्यम से किया जाएगा। इसके लिए जिस विद्यालय में भर्ती होनी है उसमे केवल उसी ब्लाक के निवासी और सभी पात्रता पूरी करने वाले बेरोजगार को रखा जाएगा। चयनित शिक्षक को 15 हजार रुपये प्रतिमाह मानदेय दिया जाएगा। दोनों पदों के लिए चयन की योग्यता पूर्ववत रहेगी।

शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने बताया कि सभी मुख्य शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि जून माह के अंत तक सभी स्कूलों के लिए शिक्षकों का चयन कर लिया जाए। बतादें कि पहले ये पद गेस्ट टीचर के रूप में भरे जाते थे. परन्तु कोर्ट से इस पर रोक लगाने के बाद शिक्षा विभाग ने अब इन पदों को वॉक इन इंटरव्यू के जरिये अस्थायी तौर पर भरने का निर्णय लिया गया है। बैठक में जवाहर नवोदय विद्यालयों में शिक्षा विभाग से प्रतिनियुक्ति पर तैनात शिक्षकों को वापस लाने पर भी चर्चा हुई। शिक्षा मंत्री ने बताया कि ऐसे तकरीबन 150 शिक्षकों को वापस विभाग में लाकर सरकारी विद्यालयों में भेजा जाएगा। इससे नवोदय विद्यालयों में जो पद रिक्त होंगे, उन पर वॉक इन इंटरव्यू के जरिये नई नियुक्ति की जाएंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here