नोएडा सेक्टर 123 में बन रहे डंपिंग ग्राउंड का विरोध लगातार जारी है। बुधवार को स्थानीय लोगों ने डंपिंग ग्राउंड साइट पर अर्धनग्न होकर प्रदर्शन किया। नोएडा प्राधिकरण के खिलाफ सेक्टर-122 में हुई महापंचायत में आज सुबह से ही बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए। इसके बाद लोगों के हुजूम ने पर्थला गोलचक्कर को जाम लगा था। प्रदर्शनकारियों और पुलिस-प्रशासन के बीच कई बार टकराव की स्थिति भी बनी। डंपिंग ग्राउंड के समाधान निकालने के लिए मंगलवार को हुई उच्च स्तरीय बैठक में भी कोई सहमति नहीं बन सकी थी। जिसके बाद कूड़ा संघर्ष समिति के अध्यक्ष सुखबीर पहलवान ने आरोप लगाया कि नोएडा प्राधिकरण के अधिकारी अपनी बात पर अड़े हुए हैं। सुखबीर पहलवान ने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को गाजियाबाद में कूड़ा संघर्ष समिति के सदस्यों से मुलाकात के दौरान आश्वासन दिया था कि डंपिंग ग्राउंड आबादी से 2 किलोमीटर दूर बनाया जाएगा। लेकिन जहां पर अभी डंपिंग ग्राउंड बनाया जा रहा है, वह स्थान आबादी से मात्र 100 मीटर दूर है। जिस कारण वहां पर लोगों का सांस लेना तक मुश्किल हो जायेगा।

डंपिंग ग्राउंड के विरोध के विरोध मे किन्नरों का भी सपोर्ट

पिछले कई दिनों से धरने पर बैठे नोएडा वासियों का दर्द आज किन्नरों ने भी समझा, आज किन्नरों का एक समूह धरने पर बैठे लोगों के समर्थन मे धरना स्थल पर पहुंचा, किन्नरों का कहना है की वे किसी भी सूरत मे रिहायशी इलाके मे कूड़ाघर नहीं बनने देंगे.

डंपिंग ग्राउंड को लेकर प्रतिनिधिमंडल ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मुलाकात की

सपा के पूर्व प्रत्याशी सुनील चौधरी, जिलाध्यक्ष बीर सिंह यादव के नेतृत्व मे आज एक प्रतिनिधिमंडल ने नोएडा सेक्टर 123 नोएडा में बन रहे डंपिंग ग्राउंड को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से उनके दिल्ली स्थित आवास पर मुलाकात की और उन्हें ज्ञापन सौंपा। प्रतिनिधिमंडल ने अखिलेश यादव को बताया कि रिहायशी इलाके मे डंपिंग ग्राउंड बनाया जाना लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ होगा। परन्तु नोएडा प्राधिकरण एनजीटी की आड़ में जबरन वहां पर डंपिंग ग्राउंड बनाने पर तुला है। स्वच्छ वातावरण में श्वांस लेना सबका मौलिक अधिकार है, लेकिन वह भी हमसे छीन जा रहा है। जनता कई महीनों से सड़क पर है लेकिन जनता की आवाज को कोई सुनने वाला नहीं है। सभी लोगों ने इस मुद्दे पर अखिलेश यादव से मदद करने की अपील की। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी की तरफ से हर संभव मदद की जाएगी। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार आएगी तो कूड़ा निस्तारण की नीति बनाई जाएगी। उन्होंने कहा कि जहां लाखों लोग बसे हुए हैं वहां पर कूड़ा घर नहीं बनना चाहिए। उन्होंने आश्वासन दिया कि अगर बीजेपी सरकार वहां पर डंपिंग ग्राउंड बनाती है तो जब उनकी सरकार आएगी तो वहां से डंपिंग ग्राउंड को हटा देगी। इस मुद्दे को समाजवादी पार्टी हर स्तर पर उठाएगी और आप लोगों के संघर्ष में समाजवादी पार्टी आपके साथ है। प्रतिनिधिमंडल में पूर्व प्रत्याशी सुनील चौधरी, जिलाध्यक्ष बीर सिंह यादव, निवर्तमान महासचिव एवं प्रवक्ता राघवेंद्र दुबे, भरत प्रधान, दलवीर यादव, अमर शर्मा, मुकेश प्रधान, रामवीर यादव, पिंटू यादव, गौरव, विजय यादव, अनुपम ओबेरॉय,श्रवण त्यागी, संजय त्यागी, बबलू चौहान, ओमपाल राणा, रेशपाल अवाना, कुलदीप यादव, मोहम्मद तस्लीम सहित तमाम लोग मौजूद रहे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here